सावधान आग से जल जाने पर क्या करें क्या ना करें पढ़ें पूरा आर्टिकल

जल जाने का कारण और लक्षण

 

लोग प्रायः दीपक स्टोव गैस आज की आग से जाने अनजाने में जल जाते हैं | जले हुए भाग पर लपकन पर जाती है खाले सिमट जाती हैं कई बार तो फफोले पड़ जाते हैं | जलन के कारण बेचैनी बढ़ जाती है|

जल जाने पर घरेलू उपचार

1-जले हुए स्थान को पानी में डुबो देना चाहिए यदि अंग पानी में डालने लायक नहीं है तो उस पर पानी में कपड़ा भिगोकर रख देना चाहिए पानी से रोगी की जलन तथा दर्द कम हो जाता है धीरे-धीरे जलने की तकलीफ ठंड पड़ जाती है यदि बर्फ रखें तो और भी अच्छा है|

2-रोगी को एकांत कमरे में लेटा कर कंबल या चादर उड़ा दे|

3-यदि जलने वाले अंक पर फफोले पड़ गए हो तो उनको फोड़े नहीं क्योंकि वह फफोले के भीतर का पानी नीचे की त्वचा की रक्षा करता है|

4-जले हुए स्थान पर एक भाग अलसी का तेल और दो भाग चूने का पानी मिलाकर लगाएं|

5-नारियल के तेल में चूने का पानी मिलाकर लगाने से भी रोगी को बहुत आराम मिलता है|

6-यदि घर में बरनोल हो तो उसे ड्रेसिंग करें|

7-कच्चे आलू को पीसकर उसका लेप करें|

8-मुलेठी चंद्रन को पानी में घिसकर लेप करें|

9-बबूल की गोंद को पानी में घोलकर जले हुए स्थान पर लगाने से जलन शांत हो जाती है|

10-कच्चे दूध में जायफल घिसकर लगाने से जलन शांत हो जाती है तथा निशान भी नहीं पड़ती है|

11-मुल्तानी मिट्टी को बारीक पीसकर के जले हुए स्थान पर लेप लगाएं|

12-तारपीन का तेल तथा कपूर दोनों को बराबर की मात्रा में मिलाकर लगाएं|

13-कच्ची गाजर का रस बार-बार जले हुए स्थान पर लगाएं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *