Bhagvat Geeta, श्रीकृष्ण ने बताया खुश रहने का आसान तरीका - INFOAFTER.COM-WELCOME TO HOME REMEDY
VIDEOCLICK TO WATCH VIDEO

Bhagvat Geeta, श्रीकृष्ण ने बताया खुश रहने का आसान तरीका

नमस्कार दोस्तों आज हमें कैसे हम टॉपिक के बारे में बात करने जा रहे हैं | जो हमारे जीवन से कभी न कभी तो जुड़ा ही होगा | दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं कि हम खुश कैसे रहें जी हां खुश रहना हमारे जीवन के लिए बहुत ही आवश्यक है | इसके लिए हम आज भगवत गीता का सहारा लेंगे भगवत गीता में लिखे एक श्लोक के बारे में जानेंगे तो आप से निवेदन है कि आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े | और इसमें बताई गई बातों का लाभ उठाएं|

भगवत गीता BHAGVAT GEETA  आज के समय में बहुत ज्याद सार्थक है | भगवत गीता में कृष्ण और अर्जुन के श्लोक बातचीत को इस लोक के रूप में संकलित किया गया है भगवत गीता के श्लोक में कृष्ण अर्जुन से कहते हैं कि तुम्हारा क्या गया जो तुम रोते हो? तुम क्या लाए थे, जो तुमने खो दिया? तुमने क्या पैदा किया था जो नाश हो गया? न तुम कुछ लेकर अाए, जो लिया यहीं से लिया। जो दिया, यहीं पर दिया। जो लिया, इसी (भगवान) से लिया। जो दिया, इसी को दिया।

जैसा इस श्लोक का अर्थ बहुत ही सरल है लेकिन अगर आपको इसे समझने में कोई भी परेशानी आ रही है | तो चलिए हम आप के लिए इसे विस्तार से बताते हैं लेकिन भगवान कहते हैं | कि मनुष्य दुनिया में खाली हाथ आया था और खाली हाथ चला जाएगा तो वह सांसारिक सुख में क्यों डूब जाता है वह यह जान ले कि उसे अंत में खाली हाथ ही जाना है | इसलिए उसे सामाजिक भलाई करनी चाहिए जिससे उसे भी खुशी मिलती है और वह सकारात्मक ऊर्जा से भर जाता है|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *