Natural treatment for joint pain, जोड़ों के दर्द की रामबाण प्राकृतिक उपाय

जोड़ों के दर्द की प्राकृतिक चिकित्सा

प्राकृतिक चिकित्सक मानते हैं |कि रक्त में अम्लता का अंश पर जाने के कारण जोड़ों में रक्त गाढ़ा होकर रुक जाता है उससे उस उनके काम करने की शक्ति कम हो जाती है |अतः इसके लिए निम्न प्राकृतिक चिकित्सा करें|

1-सप्ताह में दो बार एनिमा लें और उपवास करें|

2-उपवास की अवधि में नींबू संतरा मौसमी चकोतरा आज फलों का रस पीने तथा ठोस पदार्थ ना खाएं|

3-पालक टमाटर खीरा और सब्जियों का प्रयोग करें|

4-पीड़ा वाले अंग पर मिट्टी की पट्टी बांधी तथा वाष्प स्नान करें वाष्प स्नान के लिए खुरई खाट पर लेट जाएं और उसके नीचे गर्म पानी का टब रख लें उसकी भाप सारे शरीर पर लगनी चाहिए| शरीर पर महीन कपड़ा लपेट लें |15 मिनट तक वाष्प स्नान करें इस प्रकार गठिया रोग लगभग 6 माह की निरंतर चिकित्सा के बाद जाता रहता है|

Naturopath of joint pain

Naturopath believes that because of the acidity of blood in the blood, the blood in the joints stops being thicker, so that the power of doing their work decreases. Therefore, do the following natural treatment for it.

1-Take an enema twice a week and fast.

2-In the period of fasting, lemon orange seasonal grapefruit today do not eat fruit juice and eat solid foods.

3-Use spinach tomato cucumber and vegetables.

4-Make a clay bandage and steam bath on the torrid part, lie on a hoof cot for a vapor bath and keep a hot tub under it, the steam should be placed on the whole body. Wrap the fine cloth on the body and take a steam bath for 15 minutes. Thus, arthritis disease keeps going after about 6 months of continuous treatment. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *