The stones will now melt in the stomach, do this home remedies || पथरी अब पेट में ही गल जाएगी, करें यह घरेलू उपचार

पथरी रोग क्यों

यह रोग मूत्र संस्था से संबंधित है मूत्र के साथ निकलने वाले क्षारीय तत्व जब किसी अज्ञात कमी के कारण गुर्दे मूत्र नलिका या मूत्राशय में रुकने लगते हैं तो वायु के प्रभाव से रेत या कंकड़ का रूप धारण कर लेते हैं इसी को पथरी कहते हैं पथरी धीरे-धीरे बढ़ती है और फिर वह विकराल रुप धारण कर लेती है यह पथ्वी गोल अंडाकार खुरदरी चिकनी कठोर नरम आदि आकारों की हो सकती है

पथरी के रोगी को कैसे पहचाने

पथरी बन जाने पर रोगी को पेशाब करते समय दर्द होता है पेशाब रुक रुक कर आता है मित्र के साथ खून भी आ जाता है शिश्न की सुपारी में दर्द होता है पथरी गुर्दे से जब मुत्राशय में खिसक आती है तब रोगी को बहुत कष्ट होता है दर्द के कारण रोगी का जी मचलता है तथा उल्टी भी हो जाती है

 

पथरी के घरेलू रामबाण इलाज

1-दो चम्मच मूली का रस तथा अजमोद 3 ग्राम दोनों को प्रतिदिन पानी के साथ सेवन करें|

2-फिटकरी का फूला 4 ग्राम प्रतिदिन मट्ठे के साथ सेवन करें|

3-मूली के 30 से 35 ग्राम बीजों को दो कप पानी में उबालें पानी जब एक कप रह जाए तो उसका सेवन करें |

4-एक गिलास गाय के दूध के मटके में 10 ग्राम जवाखार मिलाकर सुबह-शाम नित्य सेवन करें

5-पालक के पत्तों का रस एक कप और नारियल का पानी आधा कप दोनों को मिलाकर सेवन करें|

6-मेहंदी के 10 ग्राम पत्ते को आधा लिटर पानी में उबालें जब पानी एक का विचार है तो इसे छानकर पी जाएं यह पानी 15 दिन तक सेवन करें|

7-प्याज का रस दो चम्मच मिश्री के साथ 20 से 25 दिन तक सेवन करें पथरी गलकर बाहर निकल जाएगी|

8-जामुन की गुठलियों को सुखाकर पीस लें फिर इसका चूर्ण बनाकर शीशी में भर लें इसमें से आधा चम्मच चूर्ण पानी के साथ नित्य सेवन करें|

9-दूब तथा डंठल को पानी में धो कर पीस लें लगभग 5 ग्राम दूब की चटनी एक गिलास पानी में मिलाकर 15 दिन तक सेवन करें|

10-प्रतिदिन एक कप सेब का जूस पीने से कुछ ही दिनों में पथरी गलकर बाहर निकल आती है|

11-पथरी के दर्द में 10 ग्राम गोखरू का चूर्ण शहद के साथ सेवन करें इससे होने वाला दर्द रुक जाएगा|

12-आधा कप अंगूर के रस में जरा सी केसर डालकर नित्य सेवन करें|

13-गाजर के बीज 5 ग्राम शलजम के बीज 5 ग्राम तथा मूली के बीज 5 ग्राम तीनों को मिलाकर पांच खुराक बना लें सुबह शाम एक-एक खुराक का सेवन करें 15 दिन तक रोज इसका सेवन करने से पथरी गलकर बाहर निकल जाएगी|

14-गुर्दे की पथरी गलाने के लिए इलायची शिलाजीत तथा पीपर को 33 ग्राम लेकर इनका चूर्ण बना लें उसमें थोड़ी सी मिश्री मिला लें कुछ दिनों तक यह चूर्ण पानी के साथ सुबह शाम सेवन करें आपकी पत्नी गायब हो जाएगी|

15-नीम की पत्तियों को सुखाकर चूर्ण बना लें इनमें से आधा चम्मच चूर्ण पानी के साथ रोज सेवन करें|

16-आम के पत्तों को सुखा लें इन में से दो चम्मच चूर्ण पानी के साथ रोज सेवन करें|

17-गाजर का रस पित्ताशय की पथरी को गला देता है|

18–खीरे का 30 ग्राम बस कुछ दिनों तक लगातार सेवन करने से पथरी खत्म हो जाती है|

19-अखरोट को मोटे छिलके सहित पीसकर चूर्ण बना लें एक एक चम्मच सुबह शाम ठंडे पानी के साथ खाने से भी पथरी रोग दूर होता है|

इन उपायों का पालन करें आपकी पथरी दूर हो जाएगी |अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *